April 23, 2024

IOBNN Bureau

खेल डेस्क। जसप्रीत बुमराह (पांच विकेट ) की कातिलाना गेंदबाजी के बाद ईशान किशन (69) और सूर्यकुमार यादव (52) की तूफानी अर्धशतकीय पारियों की बदौलत पांच बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस ने आरसीबी को इंडियन प्रीमियर लीग के 17 संस्करण के गुरुवार को खेले गए मैच में सात विकेट से हराया।

वानखेड़े स्टेडियम में आरसीबी ने निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 196 रन बनाए। जवाब में मुंबई इंडियंस ने केवल 15.3 ओवर में तीन विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। जसप्रीत बुमराह को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया।

मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने इस प्रदर्शन के दम पर पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का 9 साल पुराना रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया है। मैच में जसप्रीत बुमराह ने इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में दूसरी बार पांच विकेट चटकाने का कमाल किया। उन्होंने 4 ओवर में 21 रन देकर 5 विकेट लिए।

ये उपलब्धि हासिल करने वाले पहले गेंदबाजबने
इसे साथ ही बुमराह आरसीबी के खिलाफ एक पारी में पांच विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज भी बन गए हैं। इससे पहले आरसीबी के खिलाफ सर्वश्रेष्ठ गेेंदबाजी करने का रिकॉर्ड आशीष नेहरा के नाम दर्ज था। उन्होंने 2015 में 10 रन देकर चार विकेट हासिल किए थे।

इन दिग्गजों को छोड़ा पीछे
वहीं जसप्रीत बुमराह ने आरसीबी के खिलाफ सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में रवीन्द्र जडेजा, संदीप शर्मा और सुनील नारायण को भी पछाड़ दिया है। मुंबई के इस गेंदबाज के नाम अब आरसीबी के खिलाफ सबसे ज्यादा 29 विकेट दर्ज हो गए हैं। वहीं रवीन्द्र जडेजा, संदीप शर्मा ने आरसीबी के खिलाफ 26-26, सुनील नारायण ने 24 और आशीष नेहरा तथा हरभजन सिंह ने 23-23 विकेट झटके थे।

PC:espncricinfo
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

खेल डेस्क। रोहित शर्मा (38) और ईशान किशन (69) के बाद सूर्यकुमार यादव (52) की तूफानी पारियों के दम पर पांच बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस ने आरसीबी को इंडियन प्रमियर लीग के गुरुवार को खेले गए मैच में सात विकेट से मात दी। आरसीबी ने इस मैच में 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 196 रन बनाए। जवाब में मुंबई इंडियंस ने केवल 15.3 ओवर में तीन विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

मुंबई इंडियंस के स्टार ओपनर रोहित शर्मा ने अपनी इस पारी के दौरान एक रिकॉर्ड भी अपने नाम किया है। रोहित शर्मा ने वानखेड़े स्टेडियम पर खेले गए इस मैच में तीन चौके और इतनी ही छक्के लगाए। पारी के दौरान उन्होंने वानखेड़े स्टेडियम पर टी20 क्रिकेट में अपने सौ छक्के पूरे किए। इसके साथ ही वह इस मैदान पर ये उपलब्धि हासिल करने वाले पहले क्रिकेटर बन गए हैं।

82वें मैच में रोहित शर्मा ने हासिल की बड़ी उपलब्धि
आईपीएल 2024 के 25वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ रोहित शर्मा ने विजयकुमार विशाक द्वारा किए पारी के सातवें ओवर की चौथी गेंद पर डीप मिडविकेट के ऊपर से छक्का लगाकर ये बड़ी उपलब्धि अपने नाम दर्ज करवाई। उन्होंने वानखेड़े स्टेडियम पर 82वें मैच में 100वां छक्का लगाया है।

लिस्ट में दूसरे स्थान पर हैं किरोन पोलार्ड
वानखेड़े स्टेडियम पर टी20 प्रारूप में सबसे ज्यादा छक्के जमाने के मामले में दूसरे स्थान पर वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान किरोन पोलार्ड हैं। मुंबई इंडियंस का ये पूर्व ऑलराउंडर 61 मैचों में 91 छक्के लगा चुका है। भारत के पूर्व बल्लेबाज अंबाती रायुडू इस मामले में तीसरे स्थान पर हैं, जिन्होंने 62 मैचों में 48 छक्के लगाए हैं।

PC:espncricinfo
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

इंटरनेट डेस्क। लोकसभा चुनाव को लेकर पीएम मोदी इन दिनों राजस्थान में विशेष रूप से सक्रियता दिखा रहे हैं। पीएम मोदी राजस्थान में लगातार चुनावी सभा कर रहे हैं। पीएम मोदी आज राजस्थान में पहली बार ऐसा करने जा रहे हैं, जो उन्होंने अभी तक लोकसभा चुनाव 2024 के प्रचार के दौरान नहीं किया था।

पीएम मोदी आज राजस्थान की राजधानी जयपुर के पास के जिले में रोड शो करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज लगातार दूसरे दिन राजस्थान के दौरे पर रहेंगे। गुरुवार को करौली में चुनाव सभा करने के बाद पीएम मोदी आज बाड़मेर में चुनावी रैली को संबोधित करने के बाद दौसा में रोड शो करेंगे।

खबरों के अनुसार, पीएम मोदी का आज दौसा में शाम पांच बजे आने का कार्यक्रम है। यहां पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विशेष स्वागत के लिए 100 स्वागत गेट बनाए गए हैं। वहीं 10 स्थानों पर लोक सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। विशेष बात ये है कि यहां 2 मिनट पीएम मोदी का रोड शो रुकेगा।

PC:thehindu
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

It was an incredible batting effort from Mumbai Indians as the hosts at the Wankhede Stadium beat Royal Challengers Bengaluru by seven wickets in the 2024 Indian Premier League on Thursday.

Bengaluru were sent in to bat first and put up a solid 196/8 after captain Faf du Plessis, Rajat Patidar and Dinesh Karthik scored half-centuries, albeit of different natures.

It was a good start for the home team with Jasprit Bumrah getting the best of Virat Kohli, yet again, along with Akash Madhwal dismissing debutant Will Jacks cheaply. But du Plessis and Patidar came good as the duo put on an 82-run partnership for the third wicket. While the former South African captain reached his half-century in 33 balls, Patidar found some good form with his 26-ball fifty.

However, Bumrah came back to break the Bengaluru batting flow with consecutive wickets in both the 17th and 19th overs to finish with 5/21 in his four-over spell. Karthik ended unbeaten on 53 off 23 balls with the final over going for 19 runs.

However, the dew came into full effect in the Mumbai chase along with some shoddy bowling on the part of the Bengaluru team. Ishan Kishan and Rohit Sharma put on a stunning 101-run partnership for the opening…

Read more

इंटरनेट डेस्क। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव को लेकर राजस्थान में गुरुवार के पहली बार चुनावी सभा को संबोधित किया है। राजस्थान के अनुपगढ़ में आयोजित जनसभा के दौरान राहुल गांधी ने केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। इस दौरान कांग्रेस नेता ने बोल दिया कि कांग्रेस की सरकार बनी तो देश के हर गरीब परिवार की महिला के खाते में हर साल एक लाख रुपया दिया जाएगा।

इस बार का लोकसभा चुनाव लोकतंत्र और संविधान को बचाने का
राहुल गांधी ने इस दौरान बोल दिया कि इस बार का लोकसभा चुनाव लोकतंत्र और संविधान को बचाने का है। उन्होंने इस दौरान चुनावी बांड योजना को लेकर भी भाजपा पर जमकर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने सोशल मीडिया के माध्यम से भी यहीं बात कही है। उन्होंने देश में बढ़ रही महंगाई को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

देश से अपना रिपोर्ट कार्ड छिपा रहे हैं नरेंद्र मोदी
राहुल गांधी ने इस संबंध में ट्वीट किया कि इस कमरतोड़ महंगाई में, रिकॉर्ड तोड़ बेरोजगारी आम जनता पर दोहरी मार है और यही आज देश के लिए दो सबसे बड़े मुद्दे हैं। मीडिया मोदी की बात दिखा कर मुद्दे की बात छिपाने की कोशिश करता है, ताकि भाजपा सरकार का सच जनता के सामने न आए। नरेंद्र मोदी देश से अपना रिपोर्ट कार्ड छिपा रहे हैं, जिसमें वह हर सब्जेक्ट में फेल हैं और जनता अब उनकी क्लास लगाने को तैयार बैठी है। वहीं हम गरीब परिवार की महिलाओं को ₹1 लाख/साल यानी ₹8,500/महीना दे कर देश को गरीबी के दलदल से बाहर निकाल कर दिखाएंगे। यह कांग्रेस की गारंटी है।

PC:twitter
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

The Bihar Public Service Commission (BPSC) will release the results for the various posts under Agriculture Department, Govt. of Bihar in the last week of April 2024. Once declared, candidates can download their results from the official website bpsc.bih.nic.in.

The exam was conducted from March 1 to 4, 2024. The recruitment drive aims to fill up a total of 1051 vacancies.

Here’s the official notification.

Steps to download Agriculture Dept result

  1. Visit the official website bpsc.bih.nic.in

  2. On the homepage, click on the results link for various posts under Agriculture Department

  3. The result will appear on the screen

  4. Check and download the result

  5. Take a printout for future reference

For more details, candidates are advised to visit the official website here.

Read more

Welcome to The India Fix by Shoaib Daniyal, a newsletter on Indian politics. As always, if you’ve been sent this newsletter and like it, to get it in your inbox every week, sign up here (click on “follow”).

Have feedback, interesting links or think I am wrong? Write to me: theindiafix@scroll.in

In her book How India Became Democratic, academic Ornit Shani described Independent India’s first election and its adoption of universal suffrage as a “stark act of decolonisation”, one that required “an immense power of imagination”.

India had had elections before. In 1920, British India held elections for both a central as well as provincial legislatures. But elections in colonial India were limited to a small number of wealthy voters. So Independent India first general election on October 25, 1951, was something special, as every adult Indian got the right to vote. Shani identifies this as the outcome of India’s freedom movement, which was mass-based.

India managed to keep this miracle going. Elections were held regularly and keenly fought. Popular participation was high and voters enthusiastic. As I’ve argued in a previous India Fix, unlike other democracies with strong checks and balances in the form of judiciaries and legislatures, in India, the only real check on the executive are…

Read more

इंटरनेट डेस्क। लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेताओं का पार्टी छोड़ भाजपा में शािमल होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी कड़ी में आज एक नया नाम जुड़ सकता है। ये नाम कांग्रेस नेता मानवेंद्र सिंह जसोल का हो सकता है। कांग्रेस का ये दिग्गज नेता एक फिर से भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम सकता है।

बाड़मेर में आज होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में मानवेंद्र सिंह जसोल भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो ये कांग्रेस के लिए राजस्थान में एक और बड़ा झटका साबित होगा। मानवेंद्र सिंह जसोल के इस कदम से बाड़मेर लोकसभा सीट पर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे रवीन्द्र सिंह भाटी की टेंशन भी बढ़ जाएगी।

मानवेंद्र सिंह जसोल के भाजपा में शामिल होने से यहां पर भाजपा को राजपूत समाज का समर्थन मिल जाएगा। पूर्व केन्द्रीय मंत्री जसवंत सिंह जसोल के बेटे मानवेंद्र सिंह जसोल राजस्थान के इस क्षेत्र सेतीन बार चुनाव लड़ चुके हैं।

PC:livehindustan
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

The Allahabad High Court on Monday observed that credible proof is required to show that an individual changing their religion has taken the decision voluntarily and an oral or written declaration that a religious conversion has taken place is not enough to legitimise it, Bar and Bench reported.

Justice Prashant Kumar said that it is open for any individual to change their religion in the country. However, credible proof of the individual’s desire to convert their religion is required along with clear overt actions to carry it out, according to Bar and Bench.

Kumar made the observations while hearing a petition by a man to dismiss the case filed against him after he married a woman who belonged to a different religion. The petitioner had converted to his wife’s religion.

The petitioner had been accused by the woman’s father of kidnapping her and of criminal intimidation, rape and offences under the Protection of Children from Sexual Offences.

Earlier, the court had ordered the petitioner to produce the woman’s high school certificate to ascertain her age.

On Monday, the court took note of the submission of a medical report that showed that the woman was not a minor when she married the petitioner. His counsel also told the court that he had converted voluntarily and…

Read more

The Union Public Service Commission (UPSC) has released the exam schedule of the Engineering Services (Main) Examination, 2024. As per the notification, the Main exam is scheduled to be conducted on June 23, 2024. The exam will be held in two shifts — 9.00 AM to 12 noon and 2.30 PM to 5.30 PM.

The admit card will be available a week before the commencement of the Main exam at upsc.gov.in. The recruitment drive aims to fill up approximately 167 vacancies.

Steps to download ESE Mains schedule 2024

  1. Visit the official website upsc.gov.in

  2. On the homepage, click on the Engineering Services (Mains) Examination, 2024 schedule

  3. The schedule will appear on the screen

  4. Check and download the schedule

  5. Take a printout for future reference

Direct link to ESE Mains scheduled 2024.

For more details, candidates are advised to visit the official website here.

Read more

इंटरनेट डेस्क। कांग्रेस की ओर से अभी तक रायबरेली और अमेठी से अपने उम्मीदवारों के नाम ऐलान नहीं किया गया है। इन दोनों ही सीटों पर लम्बे समय से गांधी परिवार के लोग कांग्रेस की ओर से उम्मीदवार बनते रहे हैं। अब इन दोनों ही सीटों को लेकर दिग्गज कांग्रेस नेता और सीडब्ल्यूसी सदस्य एके एंटनी ने बड़ी बात कही है।

उन्होंने एक टीवी चैनल से बात करते हुए संकेत दिए हैं कि इन सीटों से कांग्रेस की ओर से उम्मीदवार कौन हो सकता है। इस दौरान एके एंटनी कहा है कि गांधी परिवार से एक ही व्यक्ति उत्तर प्रदेश में रायबरेली या अमेठी से चुनाव लड़ेगा।

इस दौरान सीडब्ल्यूसी सदस्य एके एंटनी से पूछा गया कि क्या गांधी परिवार का कोई सदस्य पारंपरिक सीट से चुनाव लड़ेगा। इस पर कांग्रेस के इस दिग्गज नेता ने कहा कि हां, एक होगा। जब उनसे पूछा गया कि क्या वह रॉबर्ट वाड्रा होंगे, तो कांग्रेस के इस अनुभव नेता ने कहा कि या तो राहुल या प्रियंका। अब आने वाला समय ही बनाएगा कि कांग्रेस की ओर से इन दोनों ही सीटों पर किसे उम्मीदवार बनाया जाता है।

वायनाड सीट से नामांकन दाखिल कर चुके हैं राहुल गांधी
गौरतलब है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केरल की वायनाड से सीट से नामांकन दाखिल किया है। वह अभी इसी सीट से मौजूदा सांसद है। राहुल गांधी को पिछल बार अमेठी सीट से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार स्मृति ईरानी से हार का सामना करना पड़ा था।

भाजपा ने स्मृति ईरानी को बनाया है अमेठी से उम्मीदवार
भाजपा की ओर से स्मृति ईरानी को एक बार फिर से इस सीट से उम्मीदवार बनाया गया है। अब देखने वाली बात होगी कि क्या इस सीट से एक बार फिर से राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच टक्कर होगी या इस बार प्रियंका गांधी इस सीट पर कांग्रेस की ओर से चुनौती पेश करेंगी।

PC:jagran,abplive

अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

It’s been more than a quarter of a century since Manmohan Singh pressed the switch on financial sector reforms, which have changed and (in many ways) undone a wobbly architecture that had been designed and erected in another era. Singh’s adoption of a twin-track reforms process – targeting industry and finance – was logical. If Indian industry had to be made productive and competitive, it needed access to an equally productive financial services sector which could efficiently allocate capital as well as provide a cost-effective pool for capital accumulation.

Interestingly, the reforms process has endured through different political regimes, even if it’s been somewhat episodic and haphazard in sequencing. The subsequent chapters explore the grand design or overarching strategy behind the financial sector reforms in India. It is this book’s thesis that even if there was indeed a master plan, many of the changes and reforms processes were induced by one or other crisis; and in areas where there were close to no crises or where scams affected people only marginally, reforms have remained half-hearted.

This book does not purport to be a laundry list of all the reform measures implemented in the past three decades, but attempts to examine some of the main…

Read more

The Rajasthan Public Service Commission (RPSC) will close the online application window for recruitment to the posts of Assistant Prosecution Officer today, April 12. Eligible candidates can apply for the posts on the official website rpsc.rajasthan.gov.in.

The recruitment drive aims to fill up a total of 181 Assistant Prosecution Officer or APO posts.

Eligibility Criteria

Age Limit: Candidates should be between the age of 21 years and 40 years as on January 1, 2024. Upper age limit relaxations applicable for reserved category candidates.

Educational Qualification: Candidates must possess a Bachelor Degree in Law (LLB) and a good understanding of Rajasthani language and culture. More details in the official notification.

Here’s the official notification.

Application Fee

Candidates from General/Unreserved categories will have to pay an examination fee of Rs 600 while SC/ST/OBC/PwBD and other reserved category candidates will pay Rs 400 at the time of application.

Steps to apply for APO posts 2024

  1. Visit the official website rpsc.rajasthan.gov.in

  2. On the homepage, click on the “Apply Online” tab

  3. Register and proceed with the application process

  4. Fill up the form, pay the fee, and submit the form

  5. Download and take a printout for future reference

For more details, candidates are advised to visit the official website here.

Read more

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान में दिन दिनों मौसम में बड़ा बदलाव देखने का मिल रहा है। मौसम में आए बदलाव के कारण गुरुवार को प्रदेश में कई स्थानों पर झमाझम बारिश हुई। मौसम परिवर्तन का प्रभाव राजधानी जयपुर में भी देखने को मिला है।

यहां पर कई जगह बारिश हुई। इसी बीच पश्चिमी विक्षोभ के कारण प्रदेश में अब आंधी और बारिश होने की भी उम्मीद बन रही है। आज से नए विक्षोभ की शुरुआत होगी, हालांकि इसका ज्यादा प्रभाव 13 और 14 अप्रैल को देखने को मिल सकता है। बारिश के कारण तापमान में गिरावट आने से लोगों को अभी गर्मी से राहत मिली हुई है।

मौसम में आए बदलाव का प्रभाव कोटा, उदयपुर, जोधपुर और अजमेर और बीकानेर सम्भागों में भी देखन को भी मिला है। मौसम विभाग ने जयपुर सहित छह सम्भागों के 16 जिलों में बारिश होने की सम्भावना व्यक्ति की है।

इन जिलों के लिए जारी हुआ अलर्ट
मौसम विभाग की ओर से राजस्थान के 22 जिलों में यलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने राजधानी जयपुर सहित अजमेर, अलवर, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, झालावाड़, झुंझनूं, करौली, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, दौसा, धौलपुर, कोटा, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर, सीकर, टोंक, बीकानेर, चूरु, हनुमानगढ़, श्रीगंगानगर में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

वज्रपात व ओलावृष्टि की है आशंका
मौसम विभाग की ओर से 13 और 14 अप्रैल को जयपुर, बीकानेर, जोधपुर, अजमेर, भरतपुर, कोटा, उदयपुर संभाग के कुछ भागों में बादल गरजने के साथ ही तेज अंधड़ की आशंका व्यक्त की है। इस दौरान यहां पर वज्रपात व ओलावृष्टि भी हो सकती है। लोगों को अभी गर्मी से राहत मिलती रहेगी।

PC:livehindustan
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

Voting is often the only chance that many of India’s marginalised groups get to express themselves. As national elections approach, Scroll’s reporters fanned out across the country to talk to groups with little socio-political power as part of a series called the View from the Margins. The aim: try to understand how the powerless and the voiceless have fared under a decade of the Modi government.

Mayalmit Lepcha had just a few hours in Delhi after landing from Sikkim and before heading out to Himachal Pradesh for a meeting. In that time she wanted to squeeze in three important things – meeting a senior lawyer, an interview with this writer and enjoy sev batata puri.

“I eat it every time I come to Delhi,” she gushed. As she indulged in chaat at Delhi’s India Habitat Centre, she painted a picture of her home in North Sikkim’s Dzongu – the Teesta flowing below, the snowfall on higher mountains, and the hugging Kanchenjunga national Park.

Mayalmit is a general secretary of the Affected Citizens of Teesta, an organisation formed by the indigenous Lepcha community of Sikkim that is fighting against the indiscriminate building of hydropower projects on River Teesta. Lepchas, a Scheduled Tribe, form 7% of the state’s…

Read more

Three years ago, Neeraj Chopra was one among many athletes hoping to join an elite club of Olympic gold medallists. Cut to 2024, and Chopra is gunning to join an even more elite club; that of multiple athletes with multiple gold medals.

As he looks towards winning back-to-back Olympic gold medals at the upcoming 2024 Paris Olympics, Chopra knows that the weight of expectations has increased. But as he attests to himself, Chopra has matured since that historic day in Tokyo.

“After Tokyo, there was an increase in self belief,” Chopra said at an online press conference.

“I’ve won a gold and silver medal at two World Championships, won the Diamond League trophy and had good throws in the seasons. So the events I have won between Tokyo and Paris has given me confidence that I can compete against good athletes.”

“There’s a saying that the tree which has more fruits bends more. You need to be humble. If I meet kids, I need to behave well and give them time. I feel happy that I have been able to not become arrogant,” he added.

What has not yet changed though is Chopra’s approach. Since 2017, the 26-year-old Haryana native has been asked when he will be able to throw the javelin past…

Read more

The division between right and left around the world has rarely felt more polarised. Of course there have always been differences between people on the different ends of the political spectrum, but now it seems they are living in different worlds entirely. This is perhaps related to the tendency for those on the right to focus on the past and to strive for a world that once was and the tendency for those on the left to do the opposite.

Take two of the most famous political slogans of recent times: Barack Obama’s “Yes we can” and Donald Trump’s “Make America great again”. While Obama’s message evokes glimpses of a prosperous future, Trump’s expresses a nostalgic outlook towards the past.

In the UK, the successful Brexit campaign, which was largely led by conservatives, famously called on people to “take back control”, while the Labour party has just launched its local election campaign under the slogan “Britain’s future”.

The pattern is similar around the world. In South Africa, the right-wing Freedom Front Plus has recently carried the slogan “Stop the decay”. For the upcoming presidential elections in Mexico, the left-wing National Regeneration Movement is mobilising voters with “United for the transformation”.

In a recent study, I explored whether, within the general public, people on…

Read more

Indian forces are eliminating terrorists in their home turf under a strong Bharatiya Janata Party-led government at the Centre, ​Prime Minister Narendra Modi claimed ​on Thursday, reported PTI.

The remark came a week after The Guardian reported that the Indian government allegedly assassinated at least 20 persons in Pakistan since 2020 as part of a new strategy to eliminate terrorists living on foreign soil.

Speaking during an election rally in Uttarakhand, Modi said on Thursday: “Enemies took advantage and terrorism spread whenever there were weak and unstable governments in the country.”

The prime minister said that a “weak” administration led by the Congress during the United Progressive Alliance governments was unable to strengthen India’s borders.

The Guardian had claimed in its report to have seen documentation allegedly tying India’s Research and Analysis Wing to the killings of Indian dissidents in Pakistan, which are said to have been orchestrated by sleeper cells based in the United Arab Emirates. Pakistani officials have accused these cells of paying millions of rupees to local criminals or poor Pakistanis to carry out the assassinations.

The Ministry of External Affairs denied the allegations to The Guardian, reiterating an earlier statement against Pakistan’s allegations and terming them as “false and malicious anti-India propaganda”.

However, Minister of Defence Rajnath Singh said in an interview with News18 on April 5 that the Indian government…

Read more

Unemployment is a major concern among Indian voters, according to a survey by Lokniti and the Centre for the Study of Developing Societies released on Thursday. Three-fifth of the survey’s respondents felt that getting jobs has become more difficult in the past five years.

Here’s a look at today’s top developments:

  • A pre-poll survey conducted by the Centre for the Study of Developing Societies and Lokniti found that unemployment is one of the key issues for voters ahead of the Lok Sabha elections. The survey found that 62% of respondents across various demographics, including those living in villages, towns and cities, indicated that finding jobs has become increasingly difficult.
  • In Punjab, the Bharatiya Janata Party welcomed into its fold Parampal Kaur Sidhu, an Indian Administrative Service officer and the daughter-in-law of prominent Shiromani Akali Dal leader Sikander Singh Maluka. Sidhu’s husband and the Akali Dal leader’s son Gurpreet Singh Maluka also joined the BJP ahead of the general elections. Punjab Chief Minister Bhagwant Mann, however, said that Sidhu’s resignation as an IAS officer has not yet been accepted by the Punjab government.
  • The Telugu Desam Party, led by former Chief Minister N Chandrababu Naidu, announced on Thursday that it will not contest the Lok Sabha elections in Telangana. The party, however, has yet to take a…

    Read more

Sumit Nagal enforced a deciding set against world No 7 Holger Rune before losing his Round of 32 match to exit the 2024 Monte Carlo Masters on Thursday.

The Indian lost 3-6, 6-3, 2-6 in an encounter that took two days to complete after the match was stopped on Wednesday night due to inclement weather.

Coming into the match on Thursday, Nagal was trailing 3-6 and 1-2 in the second set. But the Indian brushed off the dust and managed to recover to break Rune’s serve and force the match into a deciding set by taking the second set 6-3.

Nagal then ended up dropping his serve in the second game of the final set, but broke back immediately to get things back on level terms after holding his serve to make it 2-all. However, Rune then ended up winning the next four games with relative ease to close out the 2-hour 11-minute match.

Earlier on Wednesday, top seeds Rohan Bopanna along with his Australian partner Matthew Ebden also crashed out in the second round of the men’s doubles.

Read more

When it seemed that gender violence did not exist for most of society or that it was a matter of “passionate anger”, Ana Orantes put a face, voice, and words to it. The abuse she suffered at the hands of her husband, this woman born in Granada in the south of Spain, entered Andalusian homes in 1997 when she told on television the hell she had been living for 40 years. Only 13 days after her television appearance, José Parejo murdered her.

The case was a shock. Over the years, Ana Orantes not only became a symbol but also contributed to the legislative reforms that made Spain a pioneer in the implementation of public policies against gender violence and a benchmark at the European level.

This is how the country is perceived from the outside, where the Integral Law against Gender Violence, which celebrates its 20th anniversary this year, is often highlighted as the jewel in the crown.

François Kempf, a member of the secretariat of the Group of Experts against Violence against Women and Domestic Violence of the Council of Europe, GREVIO, which ensures compliance with the Istanbul Convention by the States, emphasises: “Spain has been a pioneer in adopting a comprehensive approach to combat gender violence, anchored in…

Read more

इंटरनेट डेस्क। सीबीएसई में ग्रुप ए, बी और सी पदों पर हो रही भर्ती के लिए आज आवेदन करने की अन्तिम तारीख है। आज के बाद किसी भी अभ्यर्थी का आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा। आप अभी भी ऑनलाइन माध्यम से सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं।

भर्ती का विवरण:
पदों का नाम: ग्रुप ए, बी और सी
पद:118
आवेदन करने की अन्तिम तारीख: 11 अप्रैल 2024
आयु : पूरी जानकारी नोटिफिकेशन से प्राप्त करें।
शैक्षिक योग्यता: नोटिफिकेशन के माध्यम सेक्वालिफिकेशन चेक कर सकते हैं।

इस प्रकार करें आवेदन: नोटिफिकेशन से पूरी जानकारी प्राप्त कर आवेदन कर सकते हैं।
इस प्रकार होगा चयन: अभ्यर्थी का चयन नियमानुसार किया जाएगा।

PC:nansa
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

इंटरनेट डेस्क। अरुणाचल प्रदेश भी अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के कारण दुनिया में प्रसिद्ध है। अगर आपका इस गर्मी में कही पर घूमने का प्लान है तो यहां पर जा सकते हैं।

यहां की सुंदरता और संस्कृति से पर्यटकों का बहुत ही प्राभावित करती है। इस राज्य में विदेशों से भी हर साल सैलानी घूमने के लिए आया करते हैं। आज हम आपको यहां की कुछ ऐसी जगहों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जहां पर गर्मी के इस मौसम में घूमने में बहुत ही मजा आ जाएगा।

तवांग मठ
यहां का तवांग मठ बहुत ही शानदार पर्यटक स्थल है। ये बौद्ध तीर्थयात्रियों के आलावा सभी वर्ग के लोगों को प्रसंद आता है। यहां पर आपको करीब से प्रकृति की खूबसूरती का दीदार करने का भी आपको मौका मिलेगा।

नूरांग फॉल्स
अरुणाचल प्रदेश का नूरांग वाटर फॉल और बोंग बोंग वाटर फॉल भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। आपको आज ही यहां पर घूमने का प्लान बना लेना चाहिए।

बम ला दर्रा
यहां का बम ला दर्रा भी अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के कारण प्रसिद्ध है। ये अरुणाचल प्रदेश और तिब्बत के लहोखा विभाग के बीच हिमालय पर्वत का एक पहाड़ी दर्रा है। यह तवांग शहर से 37 किलोमीटर दूर समुद्रतल से 15200 फिट की ऊंचाई पर बसे इस स्थान पर घूमने में भी आपको बहुत ही मजा आ जाएगा।

सेला दर्रा
अरुणाचल प्रदेश का सेला दर्रा भी पर्यटकों के बीच प्रसिद्ध है, जो पश्चिमी कामेंग जिले और तवांग को जोडऩे वाला एकमात्र मार्ग है। बताया जाता है कि यहा पर एक समय 101 पवित्र झीलें थी।

PC:holidayrider,hi.wikipedia
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

इंटरनेट डेस्क। आज के समय में लोगों को दांतों से जुड़ी कई प्रकार की परेशानियों का समाना करना पड़ रहा है। इसके कई कारण है। कैल्शियम की कमी या फिर लिवर में परेशानी के कारण दांतों में पीलापन आ जाता है।

वहीं स्मोकिंग, तंबाकू, कोल्ड ड्रिंक, सोडा, टी और कॉफी के ज्यादा के कारण भी व्यक्ति को इस प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ जाता है। इसके कारण दांतों की चमक ही कम हो जाती है। आज हम आपको कई घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं, जिसके माध्यम से आप अपने दांतों को नेचुरली सफेद और चमकदार बना सकते हैं।

नींबू, नमक और बेकिंग सोडा है लाभकारी
एक बर्तन में आप एक बड़ा चम्मच बेकिंग सोडा पाउडर डालकर इसमें एक चम्मच नींबू का रस और थोड़ा सा नमक मिला लें। अब आप इस मिश्रण से टूथ ब्रश की मदद से दांतों की मसाज कर लें। इसके कुछ देर बाद आप ठंडे पानी से कुल्ला करें। बेकिंग सोडा और नींबू दांतों को साफ करने में बहुत ही उपयोगी है। इसका उपयोग करने से आपको फायदा जरूर ही मिलेगा।

नारियल तेल का इस प्रकार करें उपयोग
दांतों का पीलापन दूर करने के लिए आप नारियल तेल से मसाज कर सकते हैं। नारियल तेल को कुछ देर दांतों पर लगाकर छोड़ दें। इसके बाद अपने दांतों को नॉर्मल पानी से धो लें। नारियल तेल में मिलने वाला लॉरिक एसिड दांतों में प्लाक पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने में उपयोगी है। इससे दांतों की चमक बढ़ जाती है। आप आज से ही ये उपाय कर लें।

PC:freepik,sitarafoods
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें

इटरनेट डेस्क। आज हम आपको प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जिसे केन्द्र सरकार की ओर से पिछले साल सितंबर माह में शुरू किया गया। केन्द्र सरकार की ओर से इस योजना के अंतर्गत आर्थिक लाभ के अलावा कई अन्य तरह से लाभर्थियों को लाभ दिए जाते हैं।

आज हम आपको जानकारी देने जा रहे हैं कि आप किस प्रकार से इस योजना से जुड़ सकते हैं। अगर आप इस योजना के लिए पात्र हैं, तो आपको आवेदन के लिए नजदीकी जनसेवा केंद्र का विजिट करना होगा। यहां पर आवेदनकर्ता को अपने दस्तावेज दिखाने होते हैं। इसके बाद पात्रता चेक की जाएगी।

दस्तावेज वेरिफाई होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। सब कुछ सही पाए जाने के बाद आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाएगा। पीएम विश्वकर्मा योजना का लाभ लेने के लिए आवेदनकर्ता की उम्र 18 साल या उससे ज्यादा होनी चाहिए। इस योजना के माध्यम से कई प्रकार के लाभ दिए जाते हैं। योजना के माध्यम से लोग तीन लाख रुपए तक का लोन भी हासिल कर सकते हैं।

PC:jagran
अपडेट खबरों के लिए हमारावॉट्सएप चैनलफोलो करें